Searching...
Sunday, July 26, 2020

शिक्षक-3900 और प्राचार्य-290 के पदों पर बड़े पैमाने पर भर्ती की तैयारी, असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती के लिए यूपीएचईएससी को निदेशालय से अधियाचन मिलने का इंतजार

उच्चतर शिक्षा आयोग : अगस्त में शिक्षकों की होगी भर्ती प्रक्रिया शुरू, पांच हजार से ज्यादा रिक्त पद हैं प्रदेश के महाविद्यालयों में।

लखनऊ : प्रदेश के सहायता प्राप्त महाविद्यालयों में असिस्टेंट प्रोफेसर के रिक्त पदों का जिलाधिकारियों के माध्यम से आडिट कराने के बाद भी चयन प्रक्रिया शुरूनहीं हो पाई है। इन महाविद्यालयों में असिस्टेंट प्रोफेसर के पांच हजार से ज्यादा रिक्त पदों का ब्योरा जुटाया जा चुका है लेकिन उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग अभी तक भर्ती का विज्ञापन जारी नहीं कर सका है। अब अगले महीने के अंत तक विज्ञापन जारी करने की तैयारी चल रही है। शासन ने इसके लिए पहले ही हरी झंडी दे दी है।

आयोग के सूत्रों के अनुसार फिलहाल 3900 के करीब पदों के लिए विज्ञापन जारी करने की तैयारी है। अभ्यर्थी लंबे समय से इस विज्ञापन का इंतजार कर रहे हैं। भाजपा के शासनकाल में शिक्षकों के पदों पर चयन के लिए जारी होने वाला यह पहला विज्ञापन होगा। प्राचार्यों के रिक्त पदों पर नियुक्ति के लिए पिछले दिनों विज्ञापन संख्या 48 जारी किया गया था। विज्ञापन संख्या 46 व 47 के आधार पर चयन प्रक्रिया फिलहाल चल रही है।

प्राचार्य के 290 रिक्त पदों पर चयन प्रक्रिया शुरू :  सहायता प्राप्त महाविद्यालयों में प्राचार्यों के भी 300 से ज्यादा पद रिक्त हैं। आयोग ने खुद 290 रिक्त पदों को विज्ञापन भी कर रखा है। विज्ञापन संख्या 49 के इन पदों पर चयन के लिए होने वाली लिखित परीक्षा कोरोना संक्रमण के कारण स्थगित हो चुकी है।

....................




शिक्षक और प्राचार्य के पदों पर बड़े पैमाने पर भर्ती की तैयारी, असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती के लिए यूपीएचईएससी को निदेशालय से अधियाचन मिलने का इंतजार।

प्रयागराज। तेजी से फैल रहे कोरोना संक्रमण से बीच उत्तर प्रदेश उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग (यूपीएचईएससी) दो बड़ी भर्तियों की तैयारी में जुटा है। प्रदेश के 1. अशासकीय महाविद्यालयों में प्राचार्य एवं असिस्टेंट प्रोफेसर के पदों पर व्यापक पैमाने पर भर्ती होनी है। इनमें प्राचार्य के 290 पद और असिस्टेंट प्रोफेसर के 3900 पद शामिल हैं।




प्राचार्य पद पर भर्ती के लिए परीक्षा की तिथि निर्धारित की जा चुकी है। वहीं, असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती के लिए आयोग को उच्च शिक्षा निदेशालय से अध्यापन मिलने का इंतजार है। हालांकि प्राचार्य भर्ती के लिए लिखित परीक्षा 11 अक्तूबर को प्रस्तावित है। हालांकि इससे पहले भी तीन बार परीक्षा की तिथि घोषित की जा चुकी है लेकिन आयोग को हर बार परीक्षा स्थगित करनी पड़ी। दो बार तो लॉकडाउन के कारण परीक्षा नहीं कराई जा सकी। सबसे पहले एक मार्च को लिखित परीक्षा के आयोजन का निर्णय लिया गया था। लेकिन, परीक्षा एजेंसी बदले जाने के कारण एक मार्च को प्रस्तावित परीक्षा स्थगित कर दी गई थी। इसके बाद 29 मार्च को परीक्षा कराने का निर्णय लिया गया लेकिन इस बार लॉक डाउन के कारण परीक्षा स्थगित कर दी गई और परीक्षा की अगली तिथि 19 अप्रैल निर्धारित की गई। लॉक डाउन जारी रहने के कारण 19 अप्रैल को भी परीक्षा नहीं कराई जा सकी।



अशासकीय महाविद्यालयों में प्राचार्य के 290 पदों पर भर्ती होनी है। इनमें स्नातकोत्तर महाविद्यालय पुरुष के 134 एवं स्नातकोत्तर महाविद्यालय महिला के 30 पद और स्नातक महाविद्यालय पुरुष के 105 एवं स्नातक महाविद्यालय महिला के 21 पद शामिल हैं। दूसरी ओर, आयोग असिस्टेंट प्रोफेसर के 3900 पदों पर भर्ती शुरू करने के लिए अधियाचन मिलने का इंतजार कर रहा है। यूपीएचईएसी विज्ञापन संख्या-47 के तहत असिस्टेंट प्रोफेसर के 1150 पदों पर भर्ती पूरी कर चुका है और उसे अब अगली भर्ती शुरू करनी है। प्रदेश के अशासकीय महाविद्यालयों में असिस्टेंट प्रोफेसर के 3900 पद रिक्त पड़े हैं। इन पदों पर भर्ती के लिए शासन स्तर से उच्च शिक्षा निदेशालय को मंजूरी दी जा चुकी है। निदेशालयों में पदों का सत्यापन चल रहा है। यह काम जल्द ही पूरा होने वाला है। इसके बाद उच्च शिक्षा निदेशालय की ओर से असिस्टेंट प्रोफेसर के 3900 पदों पर भर्ती के लिए अधियाचन उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग को भेजा जाएगा और अध्यापन मिलने के बाद आयोग की ओर से विज्ञापन जारी कर भर्ती के लिए आवेदन मांगे जाएंगे।


 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

0 comments:

Post a Comment