Searching...
Sunday, August 4, 2019

एसएससी परीक्षा में जैमर से की जाएगी निगरानी, नकलविहीन परीक्षा कराने के लिए लिया गया महत्वपूर्ण निर्णय

7:18:00 PM
एसएससी परीक्षा में जैमर से की जाएगी निगरानी, नकलविहीन परीक्षा कराने के लिए लिया गया महत्वपूर्ण निर्णय।


एसएससी परीक्षा में जैमर से की जाएगी निगरानी



  • August 05, 2019
राज्य ब्यूरो, प्रयागराज : नकलविहीन, निर्विघ्न व निष्पक्ष परीक्षा कराने के लिए कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) निरंतर अपनी प्रणाली में बदलाव कर रहा है। तकनीक के जरिए एसएससी परीक्षा संचालन का उचित प्रबंध करने के लिए जाना जाता है। नई पहल करते हुए एसएससी ने परीक्षा केंद्रों में जैमर लगाने का निर्णय किया है। इसकी शुरुआत एमटीएस (मल्टी टॉस्किंग स्टाफ) 2019 परीक्षा से हो जाएगी।
पांच अगस्त सोमवार को जिन-जिन केंद्रों में एमटीएस की परीक्षा होगी वहां जैमर लगा रहेगा। इसके बाद एसएससी की हर परीक्षा के दौरान केंद्रों में जैमर लगाया जाएगा। एसएससी ने यह कदम परीक्षा केंद्र के आस-पास मोबाइल की नेटवर्किंग ध्वस्त करने के लिए उठाया है।
एसएससी की हर परीक्षा ऑनलाइन मोड में होती है। बीती कुछ परीक्षाओं में अभ्यर्थियों के मोबाइल लेकर केंद्र में पहुंचने की शिकायत मिली थी, जिन्हें जल्द ही पकड़ लिया गया है। हर केंद्र प्रभारी को कड़ा निर्देश दिया गया है कि मोबाइल लेकर कोई परीक्षार्थी प्रवेश न करने पाए, उसके लिए गेट पर गहन चेकिंग की जाती है। इसके साथ ही जैमर लगाने का निर्णय किया गया है ताकि जांच में चकमा देकर कोई मोबाइल अंदर लेकर चला भी जाए तो उससे कोई मदद नहीं ले पाएगा।
जन्म तारीख का होगा मिलान : एमटीएस की दो अगस्त की परीक्षा में लखनऊ में एक युवक दूसरी की जगह परीक्षा देते पकड़ा गया है। आगे कोई युवक दूसरे की जगह परीक्षा केंद्र में प्रवेश न करने पाए उसके लिए गेट पर सबके नाम, फोटो के साथ जन्म तारीख का भी मिलान होगा। नए आदेश में सारे परीक्षा केंद्र प्रभारियों को गेट पर ही परीक्षार्थी के प्रवेश पत्र व उनके द्वारा फार्म में भरी गई जन्म की तारीख व सन का मिलान करने का निर्देश दिया गया है।





 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

0 comments:

Post a Comment