Searching...
Wednesday, October 16, 2019

PCS-ACF परीक्षा- 2019 के लिए आवेदन शुरू, लोक सेवा आयोग ने 364 पदों के लिए मांगे आवेदन

4:33:00 PM
PCS-ACF परीक्षा- 2019 के लिए आवेदन शुरू, लोक सेवा आयोग ने 364 पदों के लिए मांगे आवेदन।

पैटर्न अपनाने में पीसीएस में बड़ा उलटफेर
October 17, 2019 


राज्य ब्यूरो, प्रयागराज : उप्र लोकसेवा आयोग ने पीसीएस 2019 की प्रारंभिक परीक्षा में भी संघ लोकसेवा आयोग यानी यूपीएससी का पैटर्न अपना लिया है। प्रारंभिक परीक्षा में यूपीएससी ने जो प्रावधान कर रखे हैं, वही अब यूपीपीएससी में लागू हो गए हैं। इसीलिए 15 दिसंबर को होने वाली इस परीक्षा में बड़ा उलटफेर हुआ है। अभ्यर्थी बदलावों को तगड़ा झटका मान रहे हैं। ज्ञात हो कि पीसीएस 2018 की मुख्य परीक्षा आगामी 18 अक्टूबर से यूपीएससी के पैटर्न पर होने जा रही है।
यूपीपीएससी के अफसरों की मानें तो यूपीएससी की तर्ज पर ही अब पीसीएस 2019 के इंटरव्यू में दो गुना अभ्यर्थी ही बुलाए जाएंगे। पहले तीन गुना अभ्यर्थी बुलाए जाते थे लेकिन, इस बार अभ्यर्थियों की संख्या कम कर दी गई है। पीसीएस परीक्षा में रक्षा अध्ययन व समाजकार्य जैसे विषय हटने से कम से कम 10 हजार अभ्यर्थियों को झटका लगा है। वह मुख्य परीक्षा देने की तैयारी कर रहे थे। आयोग का कहना है कि इन विषयों में आवेदन कम हैं साथ ही यूपीएससी ने ऐसा ही प्रावधान कर रखा है, उसी को अपनाया है।

सिर्फ अंग्रेजी में आया विज्ञापन

यह पहला मौका है जब पीसीएस परीक्षा का विज्ञापन अभी सिर्फ अंग्रेजी में जारी किया गया है। इसके पहले हंिदूी व अंग्रेजी भाषा में विज्ञापन जारी किया जाता था।

कम अभ्यर्थी बुलाने का विरोध

पीसीएस 2019 की मुख्य परीक्षा में 18 के बजाय अब 13 गुना अभ्यर्थियों को बुलाने का भी विरोध शुरू हो गया है। अभी तक जारी 300 पद के अनुसार 13 गुना अभ्यर्थी बुलाने पर 3900 ही मुख्य परीक्षा दे पाएंगे, जबकि पूर्व में यह संख्या 18 गुना होती थी।


गरीब सवर्णो को भी मिलेगा आरक्षण
October 17, 2019


राज्य ब्यूरो, प्रयागराज : उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग ने सम्मिलित राज्य/प्रवर अधीनस्थ सेवा परीक्षा यानी पीसीएस 2019 की भर्ती का विज्ञापन जारी कर दिया है। पीसीएस परीक्षा में पहली बार गरीब सवर्णो को भी दस फीसद आरक्षण का लाभ मिलेगा। आयोग को पीसीएस भर्ती के लिए अब तक 300 से अधिक पदों का अधियाचन मिला है। यह संख्या आगे और बढ़ सकती है। ऑनलाइन आवेदन का सिलसिला बुधवार से शुरू हो गया है, जो 13 नवंबर तक चलेगा, जबकि अभ्यर्थी 11 नवंबर तक परीक्षा शुल्क जमा कर सकते हैं।
यूपीपीएससी पिछले वर्ष की तरह इस बार भी पीसीएस 2019 की प्रारंभिक परीक्षा के साथ सहायक वन संरक्षक/क्षेत्रीय वन अधिकारी सेवा यानी एसीएफ/आरएफओ की प्रारंभिक परीक्षा 2019 साथ कराएगा, जबकि दोनों की मुख्य परीक्षा अलग-अलग होगी। आयोग का दावा है कि पीसीएस सामान्य चयन के लिए 300 व विशेष चयन के लिए नौ पद हैं। वहीं, सहायक वन संरक्षक के दो और क्षेत्रीय वन अधिकारी के 53 पद हैं। यह संख्या ऑनलाइन आवेदन लेने व परीक्षा परिणाम जारी होने तक बढ़ सकती है। आयोग के परीक्षा कैलेंडर में इसकी पीसीएस प्रारंभिक परीक्षा 15 दिसंबर को होना प्रस्तावित है।

एक जुलाई को 21 वर्ष की आयु : भर्ती के लिए वे ही अभ्यर्थी आवेदन कर सकेंगे, जिनकी आयु एक जुलाई 2019 को 21 वर्ष पूर्ण और 40 वर्ष से अधिक न हो। विस्तृत विज्ञापन आयोग की वेबसाइट पर दिया गया है। अभ्यर्थी उसे देखकर ही ऑनलाइन आवेदन करें।

परीक्षा केंद्रों के जिलों का नाम भी : पीसीएस विज्ञापन में उन जिलों का भी उल्लेख पहली बार किया गया है, जहां पर इसकी प्रारंभिक परीक्षा होगी। इससे अभ्यर्थियों को परीक्षा केंद्र चयन में सहूलियत मिल सकेगी।

विज्ञापन जारी, ऑनलाइन आवेदन शुरू, 11 नवंबर तक जमा होगी फीस, 13 नवंबर आवेदन की अंतिम तारीख

33 विषय घटकर रह गए 29

पीसीएस 2019 की मुख्य परीक्षा में पहले 33 विषय होते थे, जबकि अब मुख्य परीक्षा 29 विषयों की कराई जाएगी। सबसे ज्यादा मुख्य परीक्षा में लिया जाने वाला विषय रक्षा अध्ययन, समाज कार्य जैसे विषय इसमें शामिल नहीं किए गए हैं। अरबी, फारसी, कृषि अभियांत्रिकी जैसे विषय भी इस परीक्षा से बाहर कर दिए गए हैं। पहली बार विज्ञापन में ही महिला आरक्षण से संबंधित विवाद का उल्लेख है। आरक्षण सिर्फ उत्तर प्रदेश की महिलाओं अभ्यर्थियों को ही मिलेगा, लेकिन अंतिम परिणाम न्यायालय के निर्णय के अधीन है।












 व्हाट्सप के जरिये जुड़ने के लिए क्लिक करें।

0 comments:

Post a Comment